fbpx

Sakshi Malik : का संन्यास खेल जगत का काला दिन,जवाब दे सरकार

Date:

Sakshi Malik

Sakshi Malik :Sakshi MalikSakshi Malik का संन्यास खेल जगत का काला दिन,जवाब दे सरकार :कांग्रेसon साक्षी मलिक का संन्यास खेल जगत का काला दिन,जवाब दे सरकार :कांग्रेस

कांग्रेस ने कहा है कि ओलंपिक पदक विजेता पहलवान Sakshi Malik  का खेलों पर सरकार के ‘दबदबे’ के कारण संन्यास लेना, देश के खेल इतिहास का काला दिन है और भारतीय जनता पार्टी सरकार को इस बारे में देश को जवाब देना चाहिये।
कांग्रेस महासचिव रणवीर सिंह सुरजेवाला तथा बॉक्सिंग में Olympic medalist Vijender Singh ने शुक्रवार को यहां पार्टी मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पहलवान बेटियों के यौन शोषण के आरोपी भाजपा सांसद बृजभूषण सिंह के निकट सहयोगी संजय सिंह के ओलंपिक संघ का चुनाव जीतने के बाद ओलंपिक पदक जीतने वाली पहली महिला पहलवान Sakshi Malik  का संन्यास लेना भारत के खेल इतिहास में एक काला अध्याय है।

Sakshi Malik : मोदी सरकार की बेटियों के अपमान

Sakshi Malik : उन्होंने कहा कि किसान की पहलवान बेटी की आंख से निकल रहा हर आंसू मोदी सरकार की बेटियों के अपमान का प्रमाण है ‘बेटी रुलाओ बेटी सताओ और बेटियों’को घर बिठाओ भाजपा का नारा बन गया है। यह देश का दुर्भाग्य है कि हरियाणा के साधारण किसान परिवार की जिस woman won first Olympic medal ,उसे मोदी सरकार के‌ ‘दबदबे’ने घर बैठने पर मजबूर कर दिया है। पहलवान बेटियां न्याय के लिए जंतर- मंतर पर बैठी रही लेकिन भाजपा सरकार उन्हें दिल्ली पुलिस से कुचलवा रही है।
कांग्रेस नेताओं ने कहा कि आश्चर्य की बात यह है कि जो महिला पहलवान यौन शोषण की शिकार हुई है ,उन्होंने खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ही देश के गृहमंत्री और खेल मंत्री से भी गुहार लगाई थी।उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद प्राथमिकी दर्ज हुई लेकिन भाजपा सांसद की गिरफ्तारी नहीं हुई।
उन्होंने कहा कि आज देश की यह पीड़ित बेटियां मोदी सरकार से सवाल कर रही हैं कि वह उनके साथ हुये अन्याय को लेकर चुप क्यों हैं।देश की संसद,देश की राष्ट्रपति ,प्रधानमंत्री ,लोकसभा अध्यक्ष, राज्यसभा के सभापति तथा खेल जगत की हस्तियां चुप क्यों हैं। जिस  Sakshi Malik ने पहला ओलंपिक पदक जीता ,उसे मोदी सरकार के‌ ‘दबदबे’ने घर बैठने पर मजबूर कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

Central Government| सभी मंत्रालयों को 100 दिनों के भीतर अपने-अपने विभागों में एक परियोजना लागू

Central Government केंद्र सरकार के सभी विभागों और मंत्रालयों...