fbpx

हुड़दंग करने वाले सांसद करें आत्मनिरीक्षण : PM Modi

Date:

Budget Session of Parliament : संसद सत्र के दौरान सदन सदन में विपक्ष पर साधा निशाना

Budget Session of Parliament  : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा संसद के सत्र के दौरान सदनों में हुड़दंग कर लोकतंत्र का ‘चीरहरण’ करने वाले सांसदों को अपने व्यवहार को लेकर आत्मनिरीक्षण करना चाहिए।
बजट पर सत्र की शुरुआत से पहले, PM Modi ने नए संसद भवन में पहली बैठक के समापन पर संसद परिसर में मीडिया को संबोधित करते हुए कहा, संसद ने एक शानदार निर्णय लिया है और वो फैसला था- नारी शक्ति वंदन अधिनियम।

 

Budget Session of Parliament : संसद सत्र के दौरान सदन सदन में विपक्ष पर साधा निशाना उसके बाद 26 जनवरी को भी हमने देखा, किस प्रकार से देश ने कर्तव्य पथ पर नारी शक्ति के सामर्थ्य को, नारी शक्ति के शौर्य को, नारी शक्ति के संकल्प की शक्ति को अनुभव किया। आज बजट सत्र का आरंभ हो रहा है, तब President Draupadi Murmu का मार्गदर्शन और कल वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के द्वारा अंतरिम बजट एक प्रकार से ये नारी शक्ति के साक्षात्कार का पर्व है।

आज अंतिम सत्र के लिए एकत्र हुए हैं, जो शोर मचाने के लिए कुख्यात हैं

Prime Minister Modi  ने कहा कि मैं यह विश्वास करना चाहूंगा कि पिछले 10 वर्षों में हर किसी ने संसद में उसी तरह से काम किया, जिस तरह से वे कर सकते थे। हालाँकि, मुझे यह कहना होगा कि इस क्षमता के सांसद आज अंतिम सत्र के लिए एकत्र हुए हैं, जो शोर मचाने के लिए कुख्यात हैं और जो नियमित रूप से लोकतांत्रिक सिद्धांतों को नुकसान पहुंचाते हैं। तब जरूर आत्मनिरीक्षण करेंगे कि 10 साल में उन्होंने जो किया, अपने संसदीय क्षेत्र में भी 100 लोगों के नाम पूछ लें, किसी को याद नहीं होगा।

किसी को नाम भी पता नहीं होगा, जिन्होंने इतना हुड़दंग हो-हल्ला किया होगा। लेकिन विरोध का स्वर तीखा क्यों ना हो, आलोचना तीखी से तीखी क्यों ना हो, लेकिन जिसने सदन मेंउन्होंने निश्चित रूप से अपने शानदार विचारों से सदन में योगदान दिया और लोगों का एक बड़ा हिस्सा अभी भी उन्हें याद करने में सक्षम है।

जब सदन की चर्चाएं कोई देखेगा तो उनका एक-एक शब्द इतिहास बनकर के उजागर होगा

Prime Minister Modi ने  कहा, आने वाले दिनों में भी जब सदन की चर्चाएं कोई देखेगा तो उनका एक-एक शब्द इतिहास बनकर के उजागर होगा। इसलिए जिन्होंने भले ही विरोध किया होगा, लेकिन वह आलोचनात्मक रूप से सोचने की क्षमता प्रदर्शित कर सकता था, वह आम नागरिक की जरूरतों के बारे में चिंतित हो सकता था। वह हमारे बारे में अडिग हो सकता था, भले ही मैं उस पर पूरा विश्वास करता हूं कि देश का एक बहुत बड़ा वर्ग, लोकतंत्र प्रेमी इस व्यवहार की सराहना करते होंगे। लेकिन जिन्होंने सिर्फ और सिर्फकोई भी उसकी कामुकता, भड़कीलापन और लापरवाह व्यवहार को कभी याद नहीं करेगा।

Prime Minister Modi  ने कहा, “अभी बजट सत्र का मौका है। पाश्चाताप का भी अवसर है, कुछ अच्छी निशानियां छोड़ने का भी अवसर है, इसलिए मैं सभी सम्मानित सांसदों से आग्रह करूंगा कि वे इस अवसर को न चूकें। आप जो सर्वश्रेष्ठ बन सकते हैं, बनें। इसे चूकें नहीं, और राष्ट्र के साथ-साथ देश के हित के लिए इस सदन को अपने विचार दें और देश को भी उत्साह और उमंग से भर दें। मुझे विश्वास है, आप तो जानते ही है कि जब चुनाव का समय निकट होता है, तब आमतौर पर पूर्ण बजट नहीं रखा जाता है, हम भी उसी परंपरा का निर्वाह करते हुए पूर्ण बजट नई सरकार बनने के बाद आपके समक्ष लेकर के आएंगे।

भारत की वित्त मंत्री निर्मला एस सीतारमण कल पेश करेंगी

इस बार एक दिशानिर्देशक बातें लेकर के भारत की Finance Minister Nirmala S Sitharaman कल अपना बजट सबके सामने पेश करेंगी.

प्रधानमंत्री ने घोषणा की, मुझे विश्वास है कि देश लगातार प्रगति कर रहा है, विकास के नये स्तरों पर पहुंच रहा है, सर्वांगीण विकास हो रहा है और सर्वांगीण विकास हो रहा है।
, सर्वसमावेशक विकास हो रहा है, ये यात्रा जनता जनार्दन के आशीर्वाद से निरंतर बनी रहेगी। इसी विश्वास के साथ फिर आप सभी को मेरा राम-राम।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related

Pankaj Udhas Death: लंबी बीमारी के बाद मशहूर गायक पंकज उधास का मुंबई में निधन

Pankaj Udhas Death: मुंबई के मशहूर गायक पद्मश्री पंकज...

Delhi Excise Policy Case में ED के सामने इस बार भी पेश नहीं हुये केजरीवाल

Delhi Excise Policy Case:दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली...

Gyanvapi mosque: अंजुमन इंतिजामिया मसाजिद की अपील हाईकोर्ट ने खारिज की

Gyanvapi mosque : इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने ज्ञानवापी के...