fbpx

मुर्मू, धनखड, मोदी, बिरला ने अटल बिहारी वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि

Date:

Atal Bihari Vajpayee

Posted oon मुर्मू, धनखड, मोदी, बिरला ने अटल बिहारी वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि

देश के पूर्व प्रधानमंत्री Atal Bihari Vajpayee की आज 99 जयंती के अवसर पर राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ,उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ,प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।
राजघाट के समीप दिवंगत नेता की समाधि सदैव अटल पर राष्ट्रपति,उपराष्ट्रपति ,प्रधानमंत्री लोकसभा अध्यक्ष के अलावा पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ,रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह ,वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव, अनुराग ठाकुर समेत मंत्रियों सांसदों और विभिन्न देशों के राजदूतों ने पुष्पांजलि अर्पित की।
इस मौके पर भजन गायन किया गया। देश में पूर्व प्रधानमंत्री के जन्म जयंती को सुशासन दिवस के तौर पर मनाया जाता है।

मुर्मू, धनखड, मोदी, बिरला ने अटल बिहारी वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि

Pm Modi ने एक्स पर अपनी पोस्ट में लिखा,”पूर्व प्रधानमंत्री आदरणीय Atal Bihari Vajpayee जी को उनकी जयंती पर देश के सभी परिवारजनों की ओर से मेरा कोटि-कोटि नमन। वे जीवनपर्यन्त राष्ट्र निर्माण को गति देने में जुटे रहे।मां भारती के लिए उनका समर्पण और सेवा भाव अमृतकाल में भी प्रेरणास्रोत बना रहेगा।”
ओम बिरला ने कहा,” अटल जी ने देश को सदैव सर्वोपरि रखा।राष्ट्र प्रथम की भावना उनके प्रत्येक निर्णय पर आधार होती थी। अपने नेतृत्व कौशल एवं कार्य क्षमता से उन्होंने सशक्त- सुदृढ़ भारत का निर्माण किया। संसदीय परंपराओं को समृद्ध बनाने में अटल जी का महत्वपूर्ण योगदान रहा। उनकी स्मृति में आज मनाई जा रही सुशासन दिवस पर हम जनकल्याणकारी शासन के प्रति प्रतिबद्धता दोहराते हैं।”
राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा ने कहा,”अटल जी भारतीय राजनीति के शिखर पुरुष,हमारे पथ प्रदर्शक हैं ,उनको कोटि-कोटि नमन। राष्ट्रोत्थान और जनसेवा को समर्पित उनका संपूर्ण जीवन सदैव हमारी प्रेरणा बना रहेगा।”
केंद्रीय गृहमंत्री शाह ने कहा ,”पूर्व प्रधानमंत्री Atal Bihari Vajpayee जी की जयंती पर उनका स्मरण कर उन्हें नमन करता हूं। अटल जी ने निस्वार्थ भाव से देश व समाज की सेवा की और भाजपा की स्थापना के माध्यम से देश में राष्ट्रवादी राजनीति को नई दिशा दी। जहां एक और उन्होंने प्रमाणु परीक्षण और कारगिल युद्ध में विश्व को उभरते भारत की शक्ति का एहसास करवाया तो,वहीं दूसरी ओर देश में सुशासन की परिकल्पना को चरितार्थ किया।उनके विराट योगदान को देश हमेशा याद रखेगा।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related