fbpx

South Korea fire factory:दक्षिण कोरिया के बैटरी फैक्ट्री में आग लगने से 20 से अधिक लोगों की मौत

Date:

South Korea fire factory: सोमवार को दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल के निकट ह्वासोंग में एक बैटरी फैक्ट्री में आग लगने से 20 से अधिक लोगों की मौत हो गई। South Korea fire factory: योनहाप न्यूज़ एजेंसी ने सोमवार को बताया कि दुर्घटनास्थल से 20 से अधिक शव बरामद किए गए हैं, जहां 23 श्रमिकों के फंसे होने की आशंका थी।स्थानीय समयानुसार सुबह लगभग 10:31 बजे (अंतरराष्ट्रीय समयानुसार सुबह 0131 बजे) सोल (Soul) से लगभग 45 किमी दक्षिण में ह्वासोंग (Hwaseong) स्थित एक प्राथमिक बैटरी फैक्ट्री में आग लग गई।

South Korea fire factory

अनुमान लगाया जा रहा है कि ये शव उन 23 कर्मचारियों के हैं जो आग लगने के बाद इमारत में फंस गए थे। उस समय 67 लोग ड्यूटी पर थे। स्थानीय समयानुसार दोपहर 3:10 बजे आग पर काबू पाने के बाद दमकलकर्मियों ने पीड़ितों (the victims) की तलाश शुरू कर दी।

South Korea fire factory: फैक्ट्री के आस पास रहने वाले लोगों के लिए एडवाइजरी

factory fire in South Korea: आग बुझाने के बाद दमकलकर्मियों ने फैक्ट्री के अंदर पीड़ितों की तलाश की।अग्निशमन अधिकारियों ने आग बुझाने के लिए 63 अग्निशमन उपकरणों के साथ 159 दमकलकर्मियों (firefighters) का इस्तेमाल किया। हालांकि, लिथियम बैटरी लौ को को बुझाने में उन्हें दिक्कत हुई। फैक्ट्री की दूसरी मंजिल पर अनुमानतः 35,000 लिथियम बैटरियां थीं, जो कुल 2,300 वर्ग मीटर में फैली हुई थीं।

तलाशी पूरी होने से पहले ही एक व्यक्ति की हृदय गति रुकने से मौत हो गई। दो अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, और चार अन्य धुएं के कारण बीमार हो गए।ह्वासोंग के अधिकारियों ने लिथियम बैटरी फैक्ट्री (Lithium Battery Factory) में लगी आग से निकलने वाले धुएं के कारण कई चेतावनियाँ जारी कीं। उन्होंने निवासियों को अपनी खिड़कियाँ बंद करने और अंदर रहने की सलाह दी। इलेक्ट्रिक कारों, लैपटॉप और फ़ोन की बैटरियों में आग लग सकती है या थर्मलरन के के कारण विस्फोट हो सकता है। ऐसा तब होता है, जब लिथियम बैटरियां ज़्यादा गरम (Lithium batteries overheat) हो जाती हैं या उनमें छेद किया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related