fbpx

Paper Leak Case:सीएम योगी ने ओपी राजभर को तलब कर अपनी नाराजगी जताई

Date:

Paper Leak Case: सहयोगी दल के एक विधायक का पेपर लीक को लेकर वीडियो सामने आने से सत्तारूढ़ भाजपा में खासी बेचैनी है। बेदीराम का वीडियो वायरल होने के बाद मामले ने अब और राजनीतिक मोड़ ले लिया है। Paper Leak Case: एनडीए की सहयोगी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के विधायक बेदी राम का नाम लीक में आने के बाद योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को एसबीएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर को तलब किया।

Paper Leak Case

खबरों के मुताबिक योगी आदित्यनाथ और अल्पसंख्यक एवं पंचायती राज मंत्री राजभर ने कहा कि अगर जांच में पता चलता है कि बेदी राम पेपर लीक में शामिल हैं तो विधायक से पार्टी स्तर पर कार्रवाई की जाएगी।

Paper Leak Case: योगी आदित्यनाथ ऑफिस की तरफ से ट्वीट कर शिष्टाचार भेंट बतायी

योगी कार्यालय ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर फोटो शेयर करते हुए ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) से मुलाकात को शिष्टाचार भेंट बताया। हालांकि सूत्रों के मुताबिक बेदी राम का सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो से मुख्यमंत्री काफी खफा हैं। आज मुख्यमंत्री के साथ हुई बैठक में राजभर के बेटे सुभासपा के राष्ट्रीय महासचिव डॉ. अरविंद राजभर (Dr. Arvind Rajbhar) भी मौजूद थे। योगी सरकार निष्पक्ष सिपाहियों की भर्ती की तैयारी कर रही है और उसने पेपर लीक को लेकर सख्त कानून बनाया है। हालांकि सहयोगी दल के विधायक की ओर से पेपर लीक (Paper Leak) को लेकर जारी वीडियो ने सत्तारूढ़ भाजपा (BJP) को थोड़ी असहजता जरूर पहुंचा दी है।

Paper Leak Case

Paper Leak Case: इस मामले में सपा और कांग्रेस ने तीखा हमला बोला

Bediram’s social media पर वीडियो वायरल होने के बाद मामले ने अब और राजनीतिक रंग ले लिया है। पहले कांग्रेस और फिर सपा ने गुरुवार को बेदीराम को लेकर भाजपा पर सीधा हमला बोला। दोनों दलों ने सुभासपा के विधायक पर कार्रवाई की मांग कर भाजपा को अलग-थलग करने की कोशिश की। विपक्ष इस मुद्दे को तूल देना चाहता है, ताकि आगामी विधानसभा उपचुनाव से पहले नकारात्मक माहौल बनाया जा सके। सहयोगी दल के विधायक को लेकर उठ रहे सवालों को लेकर भाजपा भी सकते में नजर आ रही है।

भाजपा नेता इस बारे में कुछ भी कहने से बच रहे हैं। राजभर से योगी की मुलाकात की जो तस्वीर अब वायरल हो रही है, उस पर भी तीखी प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। आम तौर पर बातूनी राजभर की पूरे प्रकरण के दौरान चुप्पी भी कुछ और ही इशारा कर रही है। पत्रकारों से घिरे राजभर ने यह कहकर मामले को टाल दिया कि बेदीराम से ही पूछताछ होनी चाहिए। राजभर अपने विधायक से दूरी बनाते नजर आ रहे हैं। बुधवार को वीडियो जारी होने के बाद बेदी राम मीडिया से दूर (Bedi Ram away from media) रहे। हालांकि, गुरुवार को उन्हें कहीं नहीं देखा गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related